Monday, August 16, 2010

राष्ट्रीय ध्वज का महत्व.....

सबसे पहले तो आप सबको  स्वतंत्रता दिवस की ढेर सारी शुभकामनाएं...व्यस्त होने के कारण यह पोस्ट डालने में थोड़ी देर हो गयी...         
हमें आज़ाद हुए ६३ साल हो गए...तब से लेकर आज तक हमारे देश में काफी बदलाव आए हैं... समय के साथ साथ हम लोगों की सोच भी बदल गयी है. आज भी जब उनलोगों के बारे में सोचता हूँ जिन्होंने अपनी जान दे दी ताकि यह देश आज़ाद हो सके तो रोंगटे खड़े हो जाते हैं..किसी भी चीज के लिए जान दे देना वाकई में, मैं उस ज़ज्बे को झुक कर सलाम करता हूँ.....  बस दुःख इस बात का है कि आज की इस भाग दौड़ भरी ज़िन्दगी के बीच वो ज़ज्बा कहीं खो सा गया है....        
एक वो दिन भी होगा जब आजादी के दीवाने अपने झंडे की इज्जत के लिए अपनी जान भी दे दिया करते थे, और आज राष्ट्रीय ध्वज अपनी पहचान और इज्जत खोता जा रहा है.. कल जब मैंने सुबह अपने कमरे से निकल कर  बाज़ार का रुख किया तो कुछ ऐसा नज़ारा दिखा कि सोच में पड़े बिना न रह सका...             
दुःख हुआ यह देखकर कि आज हमारे राष्ट्रीय ध्वज के लिए भी स्थान नहीं है...इस कचरे के ढेर के बीच यह झंडा कहीं न कहीं यह सवाल जरूर उठाता है कि आखिर हमारे राष्ट्रीय ध्वज का महत्व आखिर है क्या ????              अगर आज वो स्वतंत्रता सेनानी यह सब देख रहे होंगे तो उनका दिल कितना व्यथित हो गया होगा....
Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...