Thursday, July 7, 2011

साल दर साल कम होती ज़िन्दगी...(happy b'day to me)...

             लो जी एक बार और मेरा जन्मदिन आ गया, और इसके साथ ही मैंने यहाँ इस खूबसूरत से सफ़र में २६ साल गुज़ार दिए | वैसे इस जन्मदिन में कुछ ख़ास तो है नहीं, हर साल ही आता है... बस इस दिन का इंतज़ार इसलिए ज्यादा होता है कि इसी बहाने कुछ भूले बिसरे लोग याद कर लिया करते हैं... अभी रात में बालकनी में बैठा हूँ और लोगों की ढेर सारी बधाईयों का शुक्रिया अदा कर रहा हूँ... सोच रहा हूँ हम जन्मदिन पर खुशियाँ क्यूँ मनाते हैं शायद इसलिए कि इस दिन हमें इस ज़िन्दगी जैसी खूबसूरत नेमत से रूबरू होने का मौका मिला, अरे आप क्या सोचने लगे .. ज़िन्दगी जैसी भी है खूबसूरत ही है....
              और जब लोग मुझे विश करते हैं तो बहुत अच्छा लगता है | अब तो ये सोशल नेटवर्किंग साईट्स के आ जाने से किसी को बर्थडे विश करना भी आसान हो गया है, ज्यादा कुछ करने की ज़रुरत नहीं है बस हैप्पी बर्थडे टाईप कीजिये और भेज दीजिये... पहले भले ही कम लोग होते थे विश करने वालों में लेकिन शायद ज्यादा ख़ुशी मिलती थी |  
               एक पुराना किस्सा याद आ रहा है, मैं जब पटना में लॉज में रहता था तो उस समय उस एरिया के आस पास के सारे लड़कों के फोन बगल वाले टेलीफोन बूथ में आते थे, और वो अंकल जो टेलीफोन बूथ चलाते थे बहुत ही अच्छे और सरल स्वभाव के थे, सभी को बाकायदा बुलाते थे या खबर पहुंचवा देते थे...हमारा लॉज बगल में ही था, तो ५ मिनट बाद फोन करने को कहकर वहां के लड़कों को बुला लिया जाता था... साल २००३ की बात है, मैंने उन्हें पहले ही कह दिया कि अंकल आज मेरा जन्मदिन है हो सकता है मेरे कुछ ज्यादा फोन आयें आज तो उन्होंने कहा कोई बात नहीं, तुम चाहो तो यहीं मेरे घर में ही बैठो आराम से... मैंने उन्हें कहा यूँ बेकार क्यूँ बैठूंगा भला, आज आप आराम कीजिये आज बूथ का ज़िम्मा मुझ पर सौंपिए.. काफी न नुकुर के बाद वो राज़ी हो गए, फिर क्या था मैंने उस दिन उस टेलीफोन बूथ को चलाने का बीड़ा उठाया, इस तरह मेरे दोस्तों को मुझसे बात करने के लिए दुबारा फोन करने की ज़रुरत भी नहीं पड़ी और मैंने अपने १८वें जन्मदिन को यादगार बना दिया... 
               वो भी बहुत अच्छे दिन थे, कई दोस्त तो उन दिनों ग्रीटिंग कार्ड भी दिया करते थे... फिर धीरे धीरे मोबाइल का प्रचलन बढ़ा तो हर जन्मदिन पर बधाईयों का सिलसिला भी बढ़ गया... तब तो कई दोस्त रात १२ बजे ही विश करने लगे, बहुत ख़ुशी मिलती है न जब कोई रात में विश करे....ऐसा लगता है उसको मेरे जन्मदिन का इंतज़ार ही था जैसे.... :)
                इस पोस्ट को लिखते वक़्त सोचा था कुछ दार्शनिक जैसा गंभीर पोस्ट लिखूंगा लेकिन अपने जन्मदिन की ख़ुशी को शायद छुपा नहीं पा रहा हूँ... तो आप भी जल्दी से मुझे विश कर दीजिये, और अग्रिम धन्यवाद भी लेते जाईये... एक गाना याद आ रहा है...
हम भी अगर बच्चे होते, नाम हमारा होता डब्लू-बबलू
खाने को मिलते लड्डू और दुनिया कहती
हैप्पी बर्थडे टू यू..... :)
अरे हाँ ब्लॉग का कलेवर भी बदल दिया गया है, आखिर परिवर्तन संसार का नियम है... ==========================================================
चलते चलते....

               मेरे जन्मदिन के साथ ही आज एक ऐसे इंसान की पुण्यतिथि है जिसने महज २५ वर्ष की उम्र आज से १२ साल पहले अपनी जान इसलिए दे दी ताकि हम जैसे लोग अपना २६वाँ जन्मदिन मना सकें, बात कर रहा हूँ एक महान शहीद विक्रम बत्रा की जो आज के ही दिन कारगिल युद्ध के दौरान शहीद हो गए थे...... इस सिपाही को मेरा शत शत नमन...
=========================================================

42 comments:

  1. happy returns of the day...........

    ReplyDelete
  2. हम सब के प्यारे शेखर को जन्मदिन की बहुत बहुत बहुत बहुत हार्दिक बधाइयाँ , शुभकामनाएं और स्नेहाशीष !!
    खूब खुश रहो प्यारे और मौज किये जाओ !!

    ReplyDelete
  3. वंदना जी
    पूछ रही हैं न ??? हाँ हाँ चाहिए....:P

    ReplyDelete
  4. रोशी जी..
    और शिवम् भैया.....
    बहुत बहुत धन्यवाद....:)

    ReplyDelete
  5. janmdivas ki dher sari shubhkamnae........janmdivas ki dher sari shubhkamnae........

    ReplyDelete
  6. जन्म-दिन की
    बहुत-बहुत बधाई एवं हार्दिक शुभ कामनाएं

    ReplyDelete
  7. जन्मदिन की ढेर सारी शुभकामनायें....

    ReplyDelete
  8. जन्मदिन की ढेर सारी शुभकामनायें....

    ReplyDelete
  9. जन्मदिन की बहुत बहुत बधाई!

    ReplyDelete
  10. खूब जियो , बस जीते चले जाओ,यही कामना है ।

    ReplyDelete
  11. हम भी अगर बच्चे होते, नाम हमारा होता डब्लू-बबलू
    खाने को मिलते लड्डू और दुनिया कहती
    हैप्पी बर्थडे टू यू..... :)
    अरे वाह शानदार कविता ....
    जन्मदिन मुबारक .....
    कलेवर बदला है ना तेवर तो नहीं .....

    ReplyDelete
  12. कम होती है ज़िन्दगी या आशीषों की संख्या बढ़ती है... अनुभवों के रास्ते अपने होते हैं . बहुत प्यार और आशीष

    ReplyDelete
  13. सबसे पहले तो शीर्षक पसंद नहीं आया | मेरे जन्मदिन की पोस्ट याद हो तो आप को पता होगा शेखर जी की जन्मदिन की खुशियों के लिए क्या कहा था , असल में साल दर साल और बढती और बेहतर होती जिंदगी होना चाहिए | जन्मदिन की बधाई हो और अब ये गाना बदल दे अब तो बच्चे भी लड्डू नहीं खाते |

    ReplyDelete
  14. अंशुमाला जी,
    अरे आपके जन्मदिन की पार्टी कौन भूल सकता है भला, क्या लजीज खाना था...:)
    शीर्षक के लिए माफ़ी लेकिन जब पोस्ट लिखने बैठा था तब सोचा था कुछ गंभीर सा लिखूंगा, लेकिन फिर मूड चेंज होते चला गया, और पोस्ट तो कहीं से भी गंभीर नहीं दिखती, तो मैंने सोचा शीर्षक वही रहना दिया जाए....यकीन मानिए ज़िन्दगी बढ़ रही है और बेहतर होना चाह रही है....
    और हाँ अजी बच्चे लड्डू खाए न खाएं ये गाना मुझे बहुत पसंद है....

    ReplyDelete
  15. janamdin ki hardik badhai aur shubhkamnaye...

    enjoy ur day :)

    ReplyDelete
  16. जन्मदिन की हार्दिक शुभकामनाएं

    ReplyDelete
  17. एक बात और , विक्रम बत्रा जी को सत सत नमन . ध्यांवाद आपको , आज के दिन उनका भी जिक्र करने के लिए .

    ReplyDelete
  18. जन्म-दिन की बहुत-बहुत बधाई एवं हार्दिक शुभ कामनाएं।

    मेजर बत्रा को शत शत नमन्।

    ReplyDelete
  19. शेखर सुमन जी ....जन्म दिन मुबारक ....आज पहली बार पढ़ा आपको ....बहुत अच्छा लिखते हैं ......बस लिखते रहिये .........स्वागत है आपका ....जब भी आप चाहें मेरी पोस्ट अपने ब्लॉग पे पोस्ट कर सकते हैं ......
    सप्रेम
    अजित सिंह तैमूर
    08445347100

    ReplyDelete
  20. शेखर सुमन जी ...एक पोस्ट है मेरी ...विक्रम बत्रा पे ...पढ़ी है आपने ?????? तू बाल बच्चेदार है ......हट जा पीछे ......मैं जाऊंगा ......ये दिल मांगे मोर और वो बूढा ज़र्ज़र फौजी ....अगर आपको उचित लगे तो इसे अपने ब्लॉग पर पोस्ट कीजिये ..........जिस से ज्यादा से ज्यादा लोग पढ़ सकें ....शहीद को श्रद्धांजलि

    अजित

    ReplyDelete
  21. आदरणीय अजित जी ....
    कुछ महीनो पहले मेरे ब्लॉग पर एक स्तम्भ आता था "सुनहरी यादें" जिसमे दूसरों की ब्लॉग की चुनिन्दा रचनायें प्रकाशित की जाती थीं...अब लगता है वो स्तम्भ दुबारा प्रकाशित करने का वक़्त आ गया है.... जल्द ही कोशिश करूंगा वो शुरू हो सके....

    ReplyDelete
  22. जन्म दिन की ढेरों शुभकामनाये.

    ReplyDelete
  23. शेखर सुमन जी जन्म-दिन की बहुत-बहुत बधाई एवं हार्दिक शुभ कामनाएं।

    ReplyDelete
  24. महान शहीद विक्रम बत्रा मेजर को शत शत नमन्!

    ReplyDelete
  25. janmdin ki shubhkaamnayen :)

    ReplyDelete
  26. जन्म-दिन की बहुत-बहुत बधाई एवं हार्दिक शुभ कामनाएं|

    ReplyDelete
  27. अब शेखर मियां..तुम्हारा जन्मदिन तो गया बीत...हमने विश भी किया था...पर ये जो अंदाज़-ए-बयां जो है तुम्हारी पोस्ट का...इसे देखकर फिर से विश कर देने का मन कर गया...तुम वाकई में हजारों साल जियो...कम से कम कुछ हज़ार ऐसी पोस्ट्स तो आयेंगी ही...बाकी तुम लिखते रहना...कैप्टन बत्रा की शहादत कभी भुलाई नहीं जा सकती है...इन शहीदों को मेरा शत शत नमन...

    ReplyDelete
  28. तनिक विलम्ब से ही सही ,जन्मदिन की बहुत बहुत शुभकामनाएं !

    ReplyDelete
  29. शेखर ,जन्मदिन की बहुत सारी बधाइयाँ ......
    अब जरा सोच कर बताओ ब्लाग पर देर से क्यों विश कर रही हूँ जबकि fb पर तो सही समय पर कर दिया था ...... अरे बच्चा थोड़ा बड़ा हो जाये तभी तो पढ़ेगा है ना :)))

    ReplyDelete
  30. जन्म-दिन की बहुत-बहुत बधाई एवं हार्दिक शुभ कामनाएं

    ReplyDelete
  31. आप सभी का बहुत बहुत धयवाद, इस जन्मदिन को ख़ास बनाने के लिए...

    ReplyDelete
  32. खाने को मिलते लड्डू वाला गाना मुझे भी बहुत पसंद है...घर में बचपन में हर साल बर्थडे पर बजने वाले गानों में एक जो था. आज भी सुन कर बचपन की मासूमियत याद आ जाती है.

    २६ एक बड़ी खूबसूरत उम्र होती है जिसमें थोड़ा बचपना होता है थोड़ी समझदारी...देर से सही. जन्मदिन की ढेर सारी बधाइयाँ.:)

    ReplyDelete
  33. Sorry hamlog bad main meley. mera janmdin 9 July hai, july main janm laney wale mahan atma hote hain jaise ki aap jasi ke mai.
    Anyway belated happy birthday to you
    ek haiku prastut hai janmdin par : -
    Janamdin hai
    Nazdik maut kay
    Aaney ka din
    Rajiv Anand
    23.3.13

    ReplyDelete
  34. wishes are never late so birthday wishes..date has gone so what? it is to come too so rather advance Birthday wishes :)

    shubhkamnayen

    ReplyDelete
  35. बहुत अच्छा लिखते हो ....सचमुच....आज पहली बार तुम्हारे ब्लॉग पर आई हूँ....और लगता है अब हमेशा आते रहना पड़ेगा.....जनम दिन के लिए बधाई ....थोडा लेट ही सही....शुभकामनायें हमेशा ...ताज़ा होती हैं.......

    स्मिता

    ReplyDelete
  36. जितना है , मजे लीजिये ! जिंदगी को एन्जॉय करिये

    ReplyDelete
  37. लो जी हम एडवांस में ही तुम्हारे जन्मदिन की बधाई दे रहे हैं .....बहुत खुश रहो ..और खूब कामयाब रहो.....

    ReplyDelete

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...